scorecardresearch

शुभ मंगल सावधान

क्वाड सम्मेलन से पहले जिनपिंग को लगी मिर्ची, जानिए क्यों बौखलाया है चीन

24 मई 2022

टोक्यो में होने वाली क्वाड की बैठक से पहले चीन की हालत पतली हो गई है. क्वाड को एशियाई नाटो कहने वाले जिनपिंग की बेचैनी बढ़ गई है. चीन को अब समझ आ रहा है कि जिस तरह से यूक्रेन पर रूसी हमले के बाद नाटो देशों ने रूस की जमकर घेराबंदी की और कड़े आर्थिक प्रतिबंध भी लगाए. उसी तरह से क्वाड देश भी चीन की घेराबंदी कर सकते हैं, जिससे दक्षिणी चीन सागर में दादागीरी करने वाले चीन को कड़ी चुनौती मिल सकती है. देखिए रिपोर्ट.

त्रिपुरा के CM Manik Saha ने पानी में उतरे बाढ़ इलाके का लिया जायजा

20 मई 2022

सारी ख़बरें शुभ नहीं होतीं, कुछ मंगल भी होती हैं और जो ना शुभ है, ना मंगल, वो करती हैं सावधान शुभ बताने, मंगल दिखाने और सावधान. आज बात की शुरुआत असम की बाढ़ से. असम में बाढ़ से बड़ी बर्बादी हुई है. असम के 27 जिले इस बाढ़ की चपेट मे हैं और कुदरत की कहरलीला अभी भी जारी है, लेकिन हमारे देश के जांबाज कुदरत के इस कहर के सामने दीवार बनकर खड़े हो गए. जहां SDRF, NDRF और सेना के जवान बाढ़ पीडितों को बचाने में जुटे हुए हैं. वहीं वायुसेना के लोग हेलिकॉप्टर के जरिए खाने पीने का सामान पहुंचा रहे हैं. जिसकी वजह से लोगों की मुसीबतें थोड़ी कम जरूर हुई हैं. वहीं त्रिपुरा के नए मुख्यमंत्री मानिक साहा भी जलभराव वाले इलाकों को जायजा लेने खुद पानी में उतरे. इससे ये संदेश साफ है कि सरकार जनता के साथ है.

असम में बाढ़ से राहत मिलने का पूर्वानुमान, बारिश की रफ़्तार पडी धीमी

19 मई 2022

सारी ख़बरें शुभ नहीं होतीं तो कुछ मंगल भी होती हैं और जो ना शुभ हो ना मंगल, वो करती हैं सावधान. .असम और पूर्वोत्तर के दूसरे राज्यों में बाढ़ से कोहराम जरूर मचा है, लेकिन रेस्क्यू कार्य भी उतनी तेजी से चलाया जा रहा है. होजाई के विधायक खुद ही रेस्क्यू में जुटे हुए हैं. उन्होंने अपने कंधे पर बिठाकर लोगों को पानी से बाहर निकाला. इसके अलावा एनडीआरएफ और सेना के जवान भी बाढ़ पीड़ितों की लगातार मदद कर रहे हैं. वहीं हेलीकॉप्टर के जरिए बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री भी पहुंचाई जा रही है. गनीमत ये है कि बारिश की रफ्तार भी धीमी पड़ गई है..ऐसे में उम्मीद है कि आने वाले कुछ दिनों में असम को बाढ़ से राहत मिल सकती है.

उत्तर पूर्वी राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ से जीवन अस्त-व्यस्त, चार लाख से ज्यादा लोग हुए प्रभावित

18 मई 2022

असम और उत्तर पूर्वी राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ का क़हर रुकने का नाम ही नहीं ले रही है. लेकिन देश के देवदूत बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने में जुटे हैं. ये बाढ़ असम तक ही सीमित नहीं है बल्कि असम के पड़ोसी राज्यों अरुणाचल प्रदेश और मेघालय को भी अपनी चपेट में ले लिया है. इन तीनों राज्यों में चार लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं

शिमला में बदला मौसम का मिजाज, दिल्ली में भी तापमान में आ सकती है गिरावट

17 मई 2022

शिमला में मौसम ने रंग बदल लिया है. जिसकी आबोहवा दिल्ली तक पहुंच रही है. क्योंकि इससे पहले दिल्ली का पारा लाल होकर 49 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया था. लेकिन शिमला की शीतलता ने दिल्ली की गर्म हवा को नर्म कर दिया है. मेरे कहने का मतलब ये है कि हिमाचल के शिमला, कांगड़ा और सोलन में जमकर बारिश हुई. हालांकि पिछले दिनों शिमला सहित कई हिल स्टेशनों पर पारा चढ़ा हुआ था. लेकिन बारिश की नर्म फुहारों ने पारे के तेवर को ढीला कर दिया. जिसकी वजह से सैलानियों से लेकर स्थानीय लोगों के चेहरों पर खुशी की मुस्कान दौड़ गई है. देखिए कार्यक्रम 'शुभ मंगल सावधान'

उत्तर भारत में गर्मी ने तोड़ा रिकॉर्ड, आने वाले दिनों में मिल सकती है राहत

16 मई 2022

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत भीषण गर्मी से तप रहा है. दिल्ली के मंगेशपुर और नजफगढ़ इलाके में पारा 49 डिग्री के पार पहुंच गया. यूपी, एमपी, राजस्थान और महाराष्ट्र के कई शहरों का यही हाल है. उत्तर भारत में ऐसे कई शहर हैं जहां पारा 47-48 डिग्री के पार जा पहुंचा है. हालांकि मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि धीरे धीरे तापमान में गिरावट आएगी. वहीं मौसम अंडमान निकोबार में दस्तक दे चुका है. मतलब आने वाले कुछ दिनों में गर्मी से राहत मिल सकती है.

रानिल विक्रमसिंघे बने श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री, जानिए क्या है उनके सामने चुनौतियां

12 मई 2022

Sri Lanka New PM Ranil Wickremesinghe: श्रीलंका में जारी राजनीतिक उठापटक के बीच रानिल विक्रमसिंघे ने प्रधानमंत्री पद की कमान संभाल ली है. विक्रमसिंघे को राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. लेकिन मजेदार बात ये है कि विक्रमसिंघे अपनी पार्टी के अकेले सांसद हैं. हालांकि वो इससे पहले चार बार श्रीलंका के प्रधानमंत्री रह चुके हैं. लेकिन इस बार उनकी नियुक्ति को काफी अहम माना जा रहा है. क्योंकि श्रीलंका इस समय आर्थिक संकट और अस्थिरता से जूझ रहा है. ऐसे में श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे ने कांटो भरा ताज पहना है. देखे ये रिपोर्ट...

देशद्रोह कानून पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई अंतरिम रोक, इस कानून का हर एक पहलू जानिए

12 मई 2022

इस कार्यक्रम में भारतीय संविधान के एक ऐसे कानून की बात होगी. जिसको लेकर कई सालों से बहस छिड़ी हुई है. ये कानून है देशद्रोह का. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम रोक लगा दी है. इस मामले में अभी भी बहुत लोग देश की जेलों में बंद हैं. देखें शुभ मंगल सावधान.

विक्ट्री डे पर रूस का शक्ति प्रदर्शन, देखें यूक्रेन के साथ जंग को लेकर क्या बोले पुतिन

10 मई 2022

यूक्रेन के साथ चल रहे घमासान के बीच रूस ने मॉस्को में 77वां विक्ट्री डे धूमधाम से मनाया. हालांकि दुनियाभर की निगाहें रूस के विक्ट्री-डे पर लगी हुई थीं कि पुतिन इस मौके पर यूक्रेन युद्ध को लेकर कुछ बड़ा ऐलान कर सकते हैं. हालांकि पुतिन ने ऐसा कुछ नहीं कहा, लेकिन पुतिन ने अपने भाषण में यूक्रेन के तीन शहरों डोनबास, खारकीव और मारियूपोल का खासतौर पर जिक्र किया और यूक्रेन के खिलाफ सैन्य कार्रवाई को जायज भी ठहराया. देखिए क्या कुछ बोले पुतिन.