scorecardresearch

GNT स्पेशल

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक खत्म, जानिए पीएम मोदी ने अपने भाषण में क्या कुछ कहा

03 जुलाई 2022

BJP Meeting Hyderabad: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन के साथ ही हैदराबाद में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक संपन्न हो गई है.पीएम मोदी ने कहा कि तुष्टिकरण खत्म कर हमने तृप्तीकरण का रास्ता अपनाया है. हमारी एक ही विचार धारा है- नेशन फर्स्ट. हमारा एक ही कार्यक्रम है- नेशन फर्स्ट.

रक्षा क्षेत्र में भारत की बड़ी उपलब्धि, DRDO ने स्टेल्थ ड्रोन का किया सफल परीक्षण

03 जुलाई 2022

रक्षा क्षेत्र में भारत हर दिन नई ऊंचाईयां हासिल कर रहा है. देश में एक के बाद एक ऐसे हथियार डेवलप हो रहे हैं जो किसी भी चुनौती को खाक में तब्दिल कर देंगे. DRDO ने ड्रोन की दुनिया में एक बड़ा परीक्षण किया है. ये परीक्षण स्टेल्थ ड्रोन का था. जो पूरी तरह सफल भी रहा. दरअसल भविष्य में पाकिस्तान और चीन की चुनौतियों को देखते हुए भारत ने स्वदेशी ऑटोनॉमस फ्लाइंग विंग टेक्नोलॉजी डिमॉन्स्ट्रेटर का परीक्षण किया है. जो देखने में अमेरिका के B-2 बॉम्बर की तरह दिखते हैं.

काशी के लिए वरदान बना विश्वनाथ कॉरिडोर, बढ़ी श्रद्धालुओं की भीड़

02 जुलाई 2022

वैसे तो बाबा काशी विश्वनाथ को प्रसन्न करने के लिए बेल पत्र, एक लोटा जल और भक्तों का भाव ही काफी है. लेकिन फिर भी भक्तों का मन कहा मानता है. ये ही वजह है कि बाबा के भक्त अपनी इच्छाशक्ति के अनुसार विशेष भोग और पैसे का दान करते हैं. बाबा विश्वनाथ धाम को नव्य और भव्य स्वरूप मिलने बाद ना सिर्फ भक्तों की संख्या में कई गुना बढ़ोतरी हुई है, बल्कि श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ने से मानो खुद भगवान कुबेर बाबा की तिजोरी में विराजमान हो गए हैं.

उड़ेगी चीन-पाकिस्तान की नींद! भारत ने किया स्वदेशी स्टेल्थ ड्रोन का सफल परीक्षण

02 जुलाई 2022

भविष्य में चीन और दूसरे देशों की चुनौतियों को देखते हुए भारत आए दिन अपने सुरक्षा क्षेत्र को मजबूती देने में जुटा है. रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) ने पहली बार ऑटोनॉमस फ्लाइंग विंग टेक्नोलॉजी डिमॉन्स्ट्रेटर (AFWTD) का परीक्षण किया है. ये अमेरिका के बी-2 बॉम्बर की तरह दिखता है. भारत का स्वदेशी स्टेल्थ ड्रोन कई मायने में मील का पत्थर साबित होने वाला है. पिछले साल भारतीय सेना प्रमुख ने बताया था कि ड्रोन हमले का खतरा कितना गंभीर है, साथ ही भारत के यूएवी ड्रोन बेड़े को मजबूत करने की जरूरत पर बल दिया था. लिहाजा देश में प्रभावी कॉम्बैट ड्रोन बनाने पर तेजी से काम चल रहा है. चित्रदुर्ग में किया गया परीक्षण इसी कोशिश में एक बड़ा कदम साबित हो सकता है.

जानिए हर साल मुंबई का हाल बारिश में क्यों हो जाता है बदहाल

01 जुलाई 2022

देश के ज़्यादातर इलाकों में मानसून आ गया है, लेकिन देश भर में मानसून के बादल कहीं राहत तो कहीं आफ़त लेकर आए हैं. खास तौर पर मुंबई के लिए बारिश कुछ समय का संकटकाल ज़रूर ले जाती है. पहली ही बारिश में मुंबई के कई इलाकों में पानी भर गया. हर बार की तरह इस साल भी बीएमसी ने कई तैयारियों के दावे किए थे, लेकिन पहली बारिश ने दावों की धुलाई कर दी है. आज हम आपको मुंबई की ग्राउंड रिपोर्ट दिखाने जा रहे हैं. साथ ही हम आपको ये भी बताएंगे कि आखिर हर साल मुंबई का हाल बारिश में बदहाल क्यों हो जाता है. औऱ इससे क्या सबक लेने की ज़रूरत है. देखें जीएनटी स्पेशल.

CM पद शपथ से पहले फडणवीस और शिंदे ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस, देखें क्या कहा

30 जून 2022

महाराष्ट्र में आज 39 विधायकों समेत उद्धव ठाकरे की शिवसेना से दामन छुड़ाकर आए एकनाथ शिंदे को आज महाराष्ट्र के नए सीएम चेहरा घोषित कर दिया गया. ये घोषणा भी उन्होंने की जिन्हें खुद सीएम पद का दावेदार माना जा रहा था. देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके महाराष्ट्र के अगले सीएम के तौर पर एकनाथ शिंदे के नाम की घोषणा की. इससे पहले एकनाथ शिंदे सभी बागी विधायकों के साथ आज दोपहर मुंबई पहुंचे थे. मुंबई आते ही शिंदे ने फडणवीस के घर जाकर उनसे मुलाकात की. लगभग शाम चार बजे दोनों नेता राज्यपाल से मिलने पहुंचे औऱ सरकार बनाने का दावा पेश किया. और शाम 5 के आसपास प्रेसकॉन्फ्रेंस में सीएम पद के लिए एकनाथ शिंदे के नाम का ऐलन करके सबको चौंका दिया. आइए सबसे पहले आपको सुनाते हैं कि देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में क्या कहा.

तीर्थयात्रियों का पहला जत्था पहुंचा अमरनाथ गुफा, बाबा बर्फानी के ऑनलाइन दर्शन की भी है सुविधा

30 जून 2022

बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए की जाने वाली अमरनाथ यात्रा शुरू हो चुकी है. दो साल बाद शुरु हुई इस यात्रा में माना जा रहा है कि एक नया रिकॉर्ड बनेगा. श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए इस बार कड़े इंतजाम किए गए हैं. सुरक्षा बलों की चौकस निगाहें लगी हुई हैं. ऑनलाइन दर्शन की भी सुविधा श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड उपलब्ध करवा रहा है.

भोले से भक्तों का मिलन अब हुआ और आसान

29 जून 2022

अमरनाथ यात्रा के लिए यात्रियों का पहला जत्था निकल चुका है. पूरे दो साल बाद जम्मू की जमीन से बाबा बर्फानी की दर्शन को निकले यात्रियों में बाबा के दर्शन को लेकर खास उत्साह दिख रहा है. जम्मू से अमरनाथ तक जाने का रास्ता बम-बम भोले के नारे से गूंज रहा है. इस बार यात्रियों की सुविधा के लिए हेलिकॉप्टर की सुविधा दी जा रही है. इससे अमरनाथ यात्री एक ही दिन में बाबा बर्फानी के दर्शन कर श्रीनगर लौट सकेंगे. अमरनाथ यात्रा पर हमेशा ही आतंकी खतरा बना रहता है, ऐसे में यात्रा के दौरान सुरक्षा के खास इंतज़ाम किए हैं, यात्रा के चप्पे चप्पे पर सुरक्षा बलों की तैनाती है, बीएसएफ से लेकर आईटीबीपी के जवानों की 400 से ज्यादा कंपनियां तैनात की गई है.

असम में बाढ़ का कोहराम जारी, सेना, वायु सेना के साथ NDRF की टीमें राहत के काम में जुटी

28 जून 2022

असम में बाढ़ के कोहराम का शोर अभी थमा नहीं है. राज्य के कई जिले अभी भी जल प्रलय के शिकार हैं. कुछ जिलों को छोड़ दें तो, करीब पूरा असम बाढ़ से घिरा है, बड़े पैमाने पर लोग घर छोड़ने के लिए मजबूर हैं, क्या शहर, क्या गांव, सब जगह केवल पानी ही पानी है. सेना, वायु सेना के साथ एनडीआरएफ और राज्य की टीम 24 घंटे राहत के काम में जुटी है. देखें जीएनटी स्पेशल.

दुनिया के सबसे ताकतवर देशों की बैठक, जर्मन चांसलर ने किया पीएम मोदी का स्वागत

27 जून 2022

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त जर्मनी में मौजूद हैं. पीएम मोदी जर्मनी में जी-7 समिट में भाग ले रहे हैं. जी 7 समिट दुनिया के सबसे ताकतवर औऱ मजबूत अर्थव्यवस्था वाले देशों का जमावड़ा है. रूस यूक्रेन जंग के बीच इस बार की जी-7 बैठक को काफी अहम माना जा रहा है. यूरोप के कई देश इस जंग के बाद से खुले तौर पर रूस का विरोध कर रहे हैं तो वहीं भारत ने शुरुआत में ही तटस्थ रुख अपनाया है. देखें जीएनटी स्पेशल.

इस दिन से शुरू होगी अमरनाथ की यात्रा, जानें प्रशासन ने की हैं क्या-क्या तैयारियां

27 जून 2022

30 जून से एक बार फिर बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए भक्तों का सैलाब उमड़ेगा. एक बार फिर बम बम भोले के नारों के साथ पवित्र अमरनाथ यात्रा की शुरुआत होगी और बाबा के दरबार में एक बार फिर भक्तों का मेला लगेगा. जानें इस साल कैसी हैं अमरनाथ यात्रा की तैयारियां.